Best short Kavita in Hindi | बेस्ट शार्ट कविता स्टेटस हिंदी.

Best short Kavita in Hindi

इस आर्टिकल मैं हमने Best short Kavita in Hindi Status बहूत सारे दिए हुए है।

दिल की बातें दिल में रखे,

आंखों से आंसू बहे।

दिल की बातें जुबा पे रखें,

जुबा से शायरी बहे।

 

वो खुली किताब में आंख बंद कर बैठा।

रखा उसपे विश्वास में अनपढ़ बन बैठा।

प्यार समझ कर उससे दिल लगा बैठा।

एक दिन पता चला में अपना दिल घूमा बैठा।

Best short Kavita in Hindi

ना सुलझा हुआ तु ना उलझा हुआ मे।………(2)

आपस में उलझ खुद से दूर हुआ में।

 

ना मेने कभी उसे देखा फिर भी उसे मेहसूस किया है।………(2)

सपनों में दिखती धुंधली तस्वीर मेने उसे प्यार कीया है।

 

वो मुलाकात हसीन बन जाती।…….(2)

जिस साम तुम्हारे साथ चाय मिल जाती।

 

तेरे कानो की बाली गालों की लाली।

तेरे मेरे बीच मे हो जाए कवाली।

छोड़ दूंगा तेरे लिए गाली वाली।

बन जा ना तु मेरी वाली वाली।

 

तुझे खोने से डरता हु की फ़िर बात ना होगी हमारी।

इस लिए बताने से डरता हु की तुम पसंद हो हमारी।

 

किस जन्म का वादा अधुरा रहा है तुझसे……(2)

की बेख्याली में ही इश्क हुआ है तुझसे।

 

वो कहते हैं की दुनिया में रखा क्या है,

मैं कहता हूँ कुछ लम्हे मोतियों के हार से बिखरे रखे हैं, कुछ लम्हे पीतल के सन्दूख में यादों से समेटे रखे हैं।

वो कहते है की ज़िन्दगी में कश्मकश क्या है,

मैं कहता हूँ कुछ कश्मकश ज़िन्दगी के छोटे बड़े फैसलों में हैं,

तो कुछ कहे अनकहे जज़्बातों में हैं।

 

कुछ लिखने बैठी थी तुम्हारे नाम,

कुछ लफ्ज़ नहीं मिले, कुछ तुम्हारी खूबियां नहीं मिली

 

जब शाम हो तो अपना बिस्तर लिए चले आना,

चले आना कुछ किस्से लिए,

कुछ यादें लिए और कुछ बातें लिए,

आफ़ताब ढले तो चले आना


Short Kavita in Hindi

तुम और चढ़ता आफ़ताब दोनों कुछ कुछ एक से

हो, दोनों ही एक नयी शुरुआत की उम्मीद देते हो

 

कमी वक़्त की नहीं, कमी नियत की थी, मेरी जान,

मैं तो खामखा तुम्हारी आदतों को तुम्हारी मजबूरी समझता रहा

 

कुछ तो फूल भी मायूस होते होंगे खिलने पर,

या फिर इंसान ही बढ़ती उम्र से डरता है?

 

कुछ सयाय लिए बैठे हैं,

कुछ जबात लिए बैठे है,

यूँ तो मौके बहुत देती है जिन्दगी,

पर हाथों से बात सी निकल ना जाए.

बस इसलिए ही मायूसी में हुपे सबक भी साथ लिए बैठे हैं।

 

दर्द गहरा भी हो तो दिखता नहीं, जनाब,

अस आप ज़रा खुशकिस्मत है की घाव बाहरी ही लिए बैठे हैं,

ना जाने कितनी मज़ारों पर माथा टेका है उसने,

जिसके आज भी घाव भरने में खुदा वक्त लिए बैठे हैं।

 

यूँ तो तरीके कई हैं प्यार जताने के,

पर जो सुकून दादा-दादी की सुनाई कहानियों में था,

ना अब वो किताब के पन्नों में है,

ना मज़ारों पर फूल चढ़ाने में है।

 

आज एक मेहमान आया है,

कुछ यादें और कुछ किस्से भी साथ लाया है,

मोतियों की माला में पिरो के रखी थी जो,

वो गुस्ताखियां बिखेरने आया है,

बचपन में सन्दूख में डाल भूल गया था,

वो बातें याद दिलाने आया है,

एक बार फिर मुझे सोचने पर मजबूर करने,

वो मेहमान आया है।

 

सर्दी की खुश्क हवा से हो कुछ तो,

कुछ कुछ बहार के सुर्ख फूलों से,

कुछ पतझड़ के गिरे पत्तों से हो,

तो कुछ गर्म हवा के झोंके से

बस फर्क इतना है तुम में

और बदलते मौसम में,

ये मौसम का बदलना कुदरत की नवाज़िश है,

और तुम, तुम्हारा बदलना,

वो तो बदस्तूर फितरत तुम्हारी है।


बेस्ट शार्ट कविता स्टेटस हिंदी.

तो क्या कहते हो?

की जय तुम्हारे एहम को मुल्मइन करने की खातिर अपनी खुशी भूल जाऊ?

या इस बार अपनी पहचान भी भूल जाऊ?

 

अब कोशिश तो ये है की

सुकून दर-ब-दर ढूंढने की

जगह अपने अंदर ही ढूंढ ले,

क्या है के इंसान में एहम काफ़ी ज़्यादा है।

 

कुछ किस्से हैं नए पुराने से,

कुछ किस्से हैं तुम्हे सुनाने से,

कभी वक़्त मिले तो साथ बैठना कुछ पल,

कई गिले हैं हमे मिटाने से

 

चल आज कुछ लम्हे कैद कर लेते हैं,

आँखों के साथ दिल में भी,

ना जाने ज़िन्दगी अब कब तुझसे रूबरू करवाए।

 

कभी वक़्त मिले तो नज़रें उठा कर भी देख लेना,

दुनिया तो अब भी बहुत हसीन है,

बस तुम्हारी आँखें ज़िन्दगी गलत जगह ढून्ढ रही हैं।

 

चलो आज एक घर तुम बनाओ समंदर किनारे.

एक मैं बनाऊ ताश के पत्तों के सहारे,

हालाँकि बनावट तो दोनों की गैर मेहफूज़ होगी, कम-अज़-कम कुछ वक़्त ही ज़ाया कर लेंगे इसी बहाने

 

Short Kavita in Hindi Status

आँखे प्यार में भी खोल लिया कीजिये

कभी, क्या पता धोखे से पहले हक़ीक़त नज़र

आ जाये

 

शिकायतें तुम्हारी, पर मैं गुस्सा नहीं…

Zindagi तुम्हारी, जिसका मैं अब हिस्सा नहीं..

 

हम साथ रहे या ना रहे, पर हमारा साथ ज़रूर रहेगा

 

Hum बिखर Jaate h

Aur

Raatein सवर Jaati h…w

 

Yaadein

चले जाते हैं सब.. मगर तुम नही जाती… कुछ ऐसा याराना है तुमसे, लोग भूल जाते हैं, पर तुम नहीं भुलाई जाती

 

मेरी अधूरी कहानी का वो

हिस्सा हो तुम… जो साथ है तो, मैं पूरा

और नही है तो, मैं अधूरा

 

ये जो तुम हमपर “शक” करते हो, बताता है कि आज भी “इश्क” करते हो..

 

कुछ इस तरह मैं तेरे शहर से गुजर Jaaungal.. सामने होगी तू, पर मैं नजर भी ना Uthaaunga..

 

वो ठहरी एक उलझी सी किताब और मैं.. उस किताब का Bookmark

 

उनके बारे में आज कुछ बताते हैं… मैं थम सा जाता हूँ, जब वो मुस्कुराते हैं…

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *